अन्य उत्तर प्रदेश क्राइम

शादी का प्रस्ताव ठुकराने पर पहले गोली और फिर चाकू मारकर कर दी हत्या

Bharatvani Samachar(Agency) : आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज की पीजी छात्रा डॉक्टर योगिता गौतम हत्याकांड की गुत्थी सुलझ गई है। हिरासत में लिए गए उरई, जालौन के मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर विवेक तिवारी ने ही वारदात को अंजाम दिया था। विवेक ने पुलिस को बताया कि योगिता ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया था और इस बात को वह बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था। इसलिए वह मंगलवार को पूरी तैयार के साथ उरई से आगरा आया था। डॉ. विवेक ने पुलिस को बताया कि उसने पहले योगिता के सिर में पीछे गोली मारी और उसके बाद चाकू से भी प्रहार किया था। खून से सना चाकू पुलिस को डॉक्टर विवेक की कार से मिल गया था। रिवॉल्वर बरामदगी के लिए एक टीम कानपुर भेजी गई है। हत्यारोपी विवेक के पिता डिप्टी एसपी के पद से रिटायर हुए थे और हत्या में इस्तेमाल की गई लाइसेंसी रिवॉल्वर उनकी ही थी। अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को आगरा के डौकी क्षेत्र में सुनसान सड़क के किनारे योगिता गौतम का शव पड़ा हुआ मिला, जिसपर चोट के निशान थे। उन्होंने कहा कि मृतका की पहचान उसी दिन शाम को हुई। अधिकारियों के अनुसार मुरादाबाद के मेडिकल कालेज में योगिता से सीनियर छात्र रहा आरोपी विवेक तिवारी उसे प्रताडि़त करता था और शादी करने का दबाव बनाता था। आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने कहा, “यहां एस एन मेडिकल कालेज में एमडी की छात्रा डॉ. योगिता गौतम मंगलवार को लापता हो गईं और उनके मोबाइल फोन का नंबर नहीं लग रहा था, जिसके बाद उसके परिजनों ने स्थानीय पुलिस स्टेशन में इसकी सूचना दी और एक प्राथमिकी दर्ज की गई।” कुमार ने कहा, “परिवारवालों ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि जालौन मेडिकल कालेज में चिकित्सा अधिकारी डॉ. विवेक तिवारी, योगिता को अक्सर फोन कर प्रताडि़त करता था और धमकी देता था।”उन्होंने कहा कि आगरा पुलिस ने जालौन जिले की पुलिस से संपर्क कर आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार किया। कुमार ने कहा कि योगिता के सिर और गले पर चोट के निशान दिखाई पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है और मामले से जुड़े और भी तथ्य जल्दी ही सामने आएंगे।

About the author

Editor@Admin

आज कल के कॉर्पोरेट कल्चर के इस दौर में हर बात ख़ास की कही जा रही है और हर बात खास की सुनी जा रही है। भारत वाणी समाचार एक जरिया बनना चाहता है जिसमें हर आम इंसान अपनी कह भी सके और अपनी सुना भी सके। यहाँ पर हर एक का एक कोना है जिसे जो कहना है कहे और जिसे जो भी सुनाना है सुनाए शर्त बस इतनी है की मर्यादाओं का संयमपूर्वक पालन किया जाये। पर ध्यान रखें की खबरें तथ्यों पर आधारित ही रहे।

Add Comment

Click here to post a comment

  • […] शादी का प्रस्ताव ठुकराने पर पहले गोली … वर्तमान BHU कुलपति के कार्यकाल में संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान, आयुर्वेद, चिकित्सा विज्ञान संस्थान, दृश्य कला संकाय आदि के विभिन्न विभागों के साथ ही अर्थशास्त्र, कला इतिहास, हिन्दी, दर्शनशास्त्र, रसायन विज्ञान विभागों में बड़ी संख्या में अनुसूचित जाति, जनजाति व अन्य पिछड़े वर्ग के योग्य अभ्यर्थियों को इंटरव्यू में बुलाकर सुनियोजित तरीके से अयोग्य घोषित किया गया है। यह सुनियोजित साजिश किस तरह से की जा रही है इसे हम दर्शनशास्त्र विभाग के उदाहरण से समझ सकते हैं। इस विभाग में शार्टलिस्टिंग में 42 उम्मीदवार योग्य पाये गये ( Eligible candidates) और इंटरव्यू के लिए 12 अभ्यर्थियों को बुलाया गया किन्तु दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से सभी को “चयन के लिये अनुपयुक्त” (NFS) घोषित कर दिया गया। इसी तरह से चिकित्सा विज्ञान संस्थान के एनेस्थीसिया विभाग में वंचित वर्गों के लिये आरक्षित सभी पाँच पदों के अभ्यर्थियों को अयोग्य ठहराया गया जबकि अभ्यर्थी बीएचयू के ही पासआउट थे। बीएचयू के अन्य विभागों में भी इसी तरह से किया गया। […]

Live TV

Weather Forecast

Facebook Like

Advertisement1

जॉब करियर

Advertisements2