उत्तर प्रदेश राज्य

हैदराबाद में मेडिकल लापरवाही का हुआ शिकार यू.पी का लाल

Thirty-year-old Surya Pratap Bharati, a PhD student at the University of Hyderabad (UoH), allegedly lost his life after a false COVID-positive test report at Nallagandla’s Citizens Speciality Hospital.
Thirty-year-old Surya Pratap Bharati, a PhD student at the University of Hyderabad (UoH), allegedly lost his life after a false COVID-positive test report at Nallagandla’s Citizens Speciality Hospital.
Bharatvani Samachar(Agency) :उत्तरप्रदेश के सुर्या प्रताप भारती (30वर्ष) हैदराबाद विश्वविद्यालय से शोधार्थी हैं।विश्वविद्यालय में विभिन्न समस्याओं पर मुखर होकर छात्र हितों के कार्यों में संलग्न रहे हिस्सा लेते रहे ।#17अगस्त2020 सुर्या को अचानक से ब्रेन हेमरेज आघात हुआ साथीगण उन्हें पास ही के सिटीजन स्पेशलिटी हॉस्पिटल (Citizens Speciality Hospital) में भर्ती करवाने पहुंचे।अस्पताल प्रशासन ने ये कहते हुए भर्ती करने से इंकार कर दिया “अभी कोरोनावायरस महामारी फैली हुई है”.. 15-20 साथियों के विनती करने पर चिकित्सा प्रबंधक राजी हुए।
सुर्या की पहले COVID-19 जांच की गई. पोजिटिव(+) रिपोर्ट बताकर क्वांरंटीन करने की सलाह दी गई।साथियों ने कहा पहले सुर्या का ब्रेन हेमरेज का इलाज कीजिए क्योंकि समय पर इलाज न हुआ तो कुछ भी हो सकता है.अंततः थक-हार कर क्वारंटीन किया गया।चिकित्सकों ने तरह-तरह के जांच के लिए कुल ₹86000 की मांग की जिसे साथियों ने चुकाया। उधर सुर्या की हालत गंभीर होती जा रही थी. साथियों ने दुसरे दिन सूर्या से मिलने की इच्छा जाहिर की पर उन्हें मिलने नहीं दिया गया. काफ़ी हंगामा के बाद अस्तपाल प्रशासन ने कहा सूर्या के बचने की उम्मीद कम है घर ले जाओ।
साथियों को शक हुआ तुरंत पास ही के अस्पताल (Continental Hospital’s) में सुर्या को ले गये वहां चिकित्सकों ने जांच की और कहा इसे कोराना का कोई लक्षण नहीं है इसकी रिपोर्ट(-) निगेटिव है। इसका तुरंत ब्रेन सर्जरी की जाती तो बच जाता अब मुश्किल है।अंततः सुर्या प्रताप भारती नहीं रहे. सुर्या के मां-बाप, साथियों को न्याय की दरकार है साथ ही हमें भी न्याय का इंतजार है।

About the author

Editor@Admin

आज कल के कॉर्पोरेट कल्चर के इस दौर में हर बात ख़ास की कही जा रही है और हर बात खास की सुनी जा रही है। भारत वाणी समाचार एक जरिया बनना चाहता है जिसमें हर आम इंसान अपनी कह भी सके और अपनी सुना भी सके। यहाँ पर हर एक का एक कोना है जिसे जो कहना है कहे और जिसे जो भी सुनाना है सुनाए शर्त बस इतनी है की मर्यादाओं का संयमपूर्वक पालन किया जाये। पर ध्यान रखें की खबरें तथ्यों पर आधारित ही रहे।

Add Comment

Click here to post a comment

Live TV

Weather Forecast

Facebook Like

Advertisement1

जॉब करियर

Advertisements2