व्यापार

शेयर बाजार मायूस, जारी रहा टूट का कहर

Stock Market Highlights: Sensex, Nifty end session lower led by bank, metal stocks; RIL drags, Hindalco top loser
Stock Market Highlights: Sensex, Nifty end session lower led by bank, metal stocks; RIL drags, Hindalco top loser

Bharatvani Samachar(Agency):मुंबई वैश्विक बाजारों में गिरावट से बृहस्पतिवार को बीएसई सेंसेक्स 323 अंक लुढ़क गया। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के आर्थिक पुनरूद्धार को लेकर अनिश्चितता जताये जाने के बाद कमजोर रुख के बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी में गिरावट के साथ बाजार नीचे आ गया। तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 323 अंक यानी 0.82 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,979.85 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 88.45 अंक यानी 0.76 प्रतिशत गिरकर 11,516.10 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक नुकसान में बजाज फिनसर्व रही। इसमें 2 प्रतिशत की गिरावट आयी। इसके अलवा जिन अन्य प्रमुख शेयरों में गिरावट रही उनमें पावर ग्रिड, एल एंड टी, आईसीअईसीआई बैंक, बजाज फाइनेंस, टीसीएस और सन फार्मा शामिल है। इसके अलावा रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी में भी गिरावट दर्ज की गयी जिसका असर शेयर बाजार पर पड़ा। दूसरी तरफ एचसीएल टेक, इन्फोसिस और मारुति के शेयर लाभ में रहे। कारोबारियों के अनुसार वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख से घरेलू शेयर बाजारों में गिरावट रही। वैश्विक बाजारों पर अमेरिकी फेडरल रिजर्व के बयान का असर पड़ा। उसने बिना कोई प्रोत्साहन योजना की घोषणा के यह संकेत दिया की मुख्य नीतिगत दर कम-से-कम 2023 तक शून्य के करीब रहेगी। वैश्विक स्तर पर एशिया के अन्य बाजारों में चीन में शंघाई और हांगकांग, दक्षिण कोरिया में सोल तथा जापान का तोक्यो बाजार नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा। इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड का भाव 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ 42.11 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

About the author

Editor@Admin

आज कल के कॉर्पोरेट कल्चर के इस दौर में हर बात ख़ास की कही जा रही है और हर बात खास की सुनी जा रही है। भारत वाणी समाचार एक जरिया बनना चाहता है जिसमें हर आम इंसान अपनी कह भी सके और अपनी सुना भी सके। यहाँ पर हर एक का एक कोना है जिसे जो कहना है कहे और जिसे जो भी सुनाना है सुनाए शर्त बस इतनी है की मर्यादाओं का संयमपूर्वक पालन किया जाये। पर ध्यान रखें की खबरें तथ्यों पर आधारित ही रहे।

Add Comment

Click here to post a comment

Live TV

Weather Forecast

Facebook Like

Advertisement1

जॉब करियर

Advertisements2