राष्ट्रीय व्यापार

केंद्र सरकार ने कर्जदारों को दी बड़ी राहत

Diwali Gift Central Government announces relaxations for loan lenders
Diwali Gift Central Government announces relaxations for loan lenders

Bharatvani Samachar (Agency): नयी दिल्ली केंद्र सरकार ने कर्जदारों को बड़ी राहत दी है। उसने देने की की शुक्रवार को देर रात घोषणा की।यह राहत सभी कर्जदारों को मिलेगा, चाहे उन्होंने किस्त भुगतान से छह महीने की दी गयी छूट का लाभ उठाया हो या नहीं। वित्तीय सेवा विभाग ने उच्चतम न्यायालय के द्वारा ब्याज राहत योजना लागू करने का निर्देश दिये जाने के बाद इसके परिचालन के दिशानिर्देश जारी कर दिये। इस योजना के क्रियान्वयन से सरकारी खजाने पर 6,500 करोड़ रुपये का बोझ पडऩे का अनुमान है। शीर्ष अदालत ने 14 अक्टूबर को केंद्र को निर्देश दिया था कि वह कोविड-19 महामारी के मद्देनजर रिजर्व बैंक की किस्तों के भुगतान से छूट की योजना के तहत दो करोड़ रुपये तक के कर्ज पर ब्याज माफ करने के बारे में यथाशीघ्र निर्णय ले। उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि आम लोगों की दिवाली अब सरकार के हाथों में है। Diwali Gift

और पढ़ें  बाइडेन, हैरिस समर्थक भारतीय-अमेरिकियों ने ट्रम्प को दिया नया नाम

मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार कर्जदार विनिर्दिष्ट ऋण खातों पर एक मार्च से 31 अगस्त 2020 के लिये इस योजना (ब्याज राहत) का लाभ उठा सकते हैं। इसमें कहा गया, ”जिन कर्जदारों के ऋण खाते की मंजूर सीमा या कुल बकाया राशि 29 फरवरी तक दो करोड़ रुपये से अधिक नहीं है, वे इस योजना का लाभ उठाने के पात्र होंगे।ÓÓ दिशानिर्देशों में बतायी गयी पात्रता शर्तों के अनुसार, 29 फरवरी तक इन खातों का मानक होना अनिवार्य है। मानक खाता उन खाताओं को कहा जाता है, जिन्हें गैर निष्पादित संपत्ति (एनपीए) नहीं घोषित किया गया हो। इस योजना के तहत आवास ऋण, शिक्षा ऋण, क्रेडिट कार्ड का बकाया, वाहन ऋण, एमएसएमई ऋण, टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद ऋण और उपभोग ऋण के धारकों को लाभ मिलेगा। योजना के तहत, कर्ज देने वाले संस्थानों को योजना की अवधि के लिये पात्र कर्जदारों के संबंधित खातों में संचयी ब्याज व साधारण ब्याज के अंतर की राशि जमा करनी होगी। योजना में कहा गया है कि कर्जधारक ने रिजर्व बैंक के द्वारा 27 मार्च 2020 को घोषित किस्त भुगतान से छूट योजना का पूर्णत: या अंशत: लाभ का विकल्प चुना हो यह नहीं, उसे ब्याज राहत का पात्र माना जायेगा। Diwali Gift
कर्ज राहत योजना का लाभ उन कर्जधारकों को भी मिलेगा जो नियमित किस्तों का भुगतान करते रहे। कर्ज देने वाले संस्थान दी गयी छूट के तहत संबंधित राशि कर्जधारक के खाते में जमा करने के बाद केंद्र सरकार से उसके बराबर राशि पाने के लिये दावा करेंगे। उच्चतम न्यायालय ने 14 अक्टूबर को मामले की सुनवाई करते हुए कहा था, वह इस बारे में चिंतित है कि कर्जदारों को ब्याज राहत का लाभ किस तरह से दिया जाये। उच्चतम न्यायालय ने तब कहा था कि केंद्र सरकार ने आम लोगों की बदहाल स्थिति का संज्ञान लेते हुए अच्छा निर्णय लिया है। हालांकि शीर्ष न्यायालय ने इस बात पर चिंता व्यक्त की थी कि अब तक इस संबंध में कोई आदेश नहीं जारी किया गया है। Diwali Gift
न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अगुवाई वाली पीठ ने कहा था, ”कुछ ठोस किये जाने की जरूरत है। जितना जल्दी संभव हो सके, दो करोड़ रुपये तक के कर्जदारों को ब्याज से राहत देने की योजना का क्रियान्वयन किया जाना चाहिये।उच्चतम न्यायालय ने मामले की सुनवाई की अगली तारीख दो नवंबर तय करते हुए कहा बैंकों तथा केंद्र सरकार का पक्ष रख रहे वकीलों से कहा था, ‘लोगों की दिवाली अब आपके हाथों में है। Diwali Gift

देश दुनिया की वो खबरें जो मायने रखती है हमारी आपकी और देश के भविष्य से उनसे जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाईक करें   खबर जन जन की आवाज़ जन गण मन की

About the author

Editor@Admin

आज कल के कॉर्पोरेट कल्चर के इस दौर में हर बात ख़ास की कही जा रही है और हर बात खास की सुनी जा रही है। भारत वाणी समाचार एक जरिया बनना चाहता है जिसमें हर आम इंसान अपनी कह भी सके और अपनी सुना भी सके। यहाँ पर हर एक का एक कोना है जिसे जो कहना है कहे और जिसे जो भी सुनाना है सुनाए शर्त बस इतनी है की मर्यादाओं का संयमपूर्वक पालन किया जाये। पर ध्यान रखें की खबरें तथ्यों पर आधारित ही रहे।

Add Comment

Click here to post a comment

Live TV

Weather Forecast

Facebook Like

Advertisement1

जॉब करियर

Advertisements2