अंतर्राष्ट्रीय

जिनपिंग की आलोचना करना पड़ा भारी हुई गिरफ़्तारी

Xi Jinping A Chinese tycoon denounced Xi Jinping and now he faces prosecution
Xi Jinping A Chinese tycoon denounced Xi Jinping and now he faces prosecution

Bharatvani Samachar(Agency):बीजिंग चीन के राष्ट्रपति Xi Jinping शी जिनपिंग की सार्वजनिक रूप से आलोचना करना चीन के एक बड़े बिजनसमैन को भारी पड़ गया। कोरोना वायरस से निपटने के मुद्दे पर Xi Jinping शी जिंपिंग के खिलाफ बोलने पर सरकारी रियल एस्टेट कंपनी के पूर्व अध्यक्ष रेन झिकियांग को भ्रष्घ्टाचार के आरोप में 18 साल के लिए जेल भेज दिया गया है। इससे पहले चीनी अरबपति को सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था। चीन की राजधानी पेइचिंग की एक अदालत ने कहा कि रेन झिकियांग भ्रष्घ्टाचार के दोषी पाए गए हैं। रेन पर करोड़ों डॉलर की घूस लेने का भी आरोप लगाया गया था। जज ने रेन को 18 साल जेल की सजा सुनाई और छह लाख 20 हजार डॉलर का जुर्माना भी लगाया। कोर्ट ने यह भी कहा कि रेन ने खुद ही अपने सभी आरोप स्घ्वीकार कर लिए और उनके पास से अवैध धन बरामद होने के बाद कोर्ट के फैसले को मान लिया। अमेरिकी टीवी चौनल सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक चीन में नेतृत्घ्व पर सवाल उठाने वाले लोगों के खिलाफ अक्घ्सर भ्रष्घ्टाचार का आरोप लगाकर उन्घ्हें जेल में डाल दिया जाता है। प्रेस पर नियंत्रण (सेंसरशिप) और अन्य संवेदनशील विषयों के बारे में अपनी बेबाक राय रखने वाले रेन झिकियांग मार्च में एक लेख ऑनलाइन प्रकाशित करने के बाद से ही सार्वजनिक रूप से नहीं दिखे हैं। इस लेख में रेन ने Xi Jinping शी जिनपिंग पर वुहान में दिसंबर में शुरू होने वाले प्रकोप को नहीं संभाल पाने का आरोप लगाया था। बीजिंग में शीचेंग जिले के अनुशासन निरीक्षण आयोग ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि 69 वर्षीय रेन पर भ्रष्टाचार, गबन, रिश्वत लेने और सरकार के स्वामित्व वाली एक कंपनी में अपने पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया था एजेंसी ने कहा कि हॉयुआन समूह के पूर्व अध्यक्ष और पार्टी के उप सचिव को सत्तारूढ़ पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। उसने अपराध के बारे में कोई विवरण नहीं दिया। चीन में 2012 में सत्तारूढ़ पार्टी के नेता बने शी ने आलोचनाओं को दबाने, सेंसरशिप को सख्त करने और गैर आधिकारिक संगठनों पर नकेल कसने का काम किया है। दर्जनों पत्रकार, श्रम और मानवाधिकार कार्यकर्ता और अन्य लोग कैद किए गए हैं।

और पढ़ें   रूसी वैक्सीन की हुई हैरान कर देने वाली हालत

देश दुनिया की वो खबरें जो मायने रखती है हमारी आपकी और देश के भविष्य से उनसे जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाईक करें  खबर जन जन की आवाज़ जन गण मन की

About the author

Editor@Admin

आज कल के कॉर्पोरेट कल्चर के इस दौर में हर बात ख़ास की कही जा रही है और हर बात खास की सुनी जा रही है। भारत वाणी समाचार एक जरिया बनना चाहता है जिसमें हर आम इंसान अपनी कह भी सके और अपनी सुना भी सके। यहाँ पर हर एक का एक कोना है जिसे जो कहना है कहे और जिसे जो भी सुनाना है सुनाए शर्त बस इतनी है की मर्यादाओं का संयमपूर्वक पालन किया जाये। पर ध्यान रखें की खबरें तथ्यों पर आधारित ही रहे।

Add Comment

Click here to post a comment

Live TV

Weather Forecast

Facebook Like

Advertisement1

जॉब करियर

Advertisements2